शनिवार व्रत की विधि || Shanivar Vrat Ki Vidhi || Shanivar Vrat Puja Vidhi

शनिवार व्रत की विधि || Shanivar Vrat Ki Vidhi || Shanivar Vrat Puja Vidhi 

हम यंहा आपको शनिवार व्रत की विधि के बारे में बताने जा रहे हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 7821878500 shanivar vrat ki vidhi by acharya pandit lalit sharma 

शनिवार व्रत की विधि || Shanivar Vrat Vidhi || Shanivar Vrat Puja Vidhi

शनिवार व्रत कब करें : shanivar vrat kab shuru kare in hindi : 

शनिवार व्रत की शुरुआत महीने के शुक्ल पक्ष के प्रथम शनिवार से करना चाहिए या शुक्ल पक्ष के शनिवार विशेषकर श्रावण मास के शनिवार के दिन से करना चाहिए ! जातक को शनिवार के 7, 19, 25, 33, 51 नियमित रूप से श्रद्धा के साथ विधिपूर्वक करना चाहिए ! 

Join Now : सरकारी योजना की जानकरी के लिए : Click Here

Join Now : बिहार शिक्षा समाचार जानकारी के लिए : Click Here

Join Now : सेंटल शिक्षा समाचार जानकारी के लिए : Click Here

शनिवार व्रत पूजा सामग्री : shanivar vrat pooja samagri in hindi : 

शुद्ध जल, थोड़ी सी शक्कर, कच्चा दूध, सरसों के तेल का दीपक !

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

शनिवार व्रत पूजा विधि : shanivar vrat puja vidhi in hindi : 

शनिवार व्रत करने वाले जातक को स्नान करके नीले, बैंगनी तथा काले वस्त्र धारण करने चाहिए ! सूर्यादय से पहले, या अधिकतम प्रातः 9 बजे तक तांबे के लोटे में शुद्ध जल में थोड़ी सी शक्कर और कच्चा दूध मिलाकर, पश्चिम मुखी होकर पीपल के पेड़ को अघ्र्य देना चाहिए ! सरसों के तेल का दीपक जलना चाहिए ! और अपने घर आकर शनिवार की व्रत कथा पढ़कर शनि ग्रह स्तोत्र का पाठ करे उसके बाद श्री शनि चालीसा का पाठ करके शनिवार व्रत की आरती करें ! और दिए गये मन्त्र की एक माला का जाप करें ! मन्त्र : “ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः॥” 

शनिवार व्रत का खाना : shanivar ke vrat ka khana in hindi : 

शनिवार व्रत करने वाले व्यक्ति को सूर्यास्त से 2 घंटे बाद भोजन करना चाहिए ! भोजन एक समय नमक रहित होना चाहिए ! शनिवार व्रत में ब्राह्मन को जूते, जुराब, नीले रंग का वस्त्र, काली छतरी, काले तिल, काले चने ,चाकू और तेल निर्मित आदि का दान देना चाहिए ! मछलियों को इस दिन दाना देना अति श्रेष्ठ है ! 

जन्मकुंडली सम्बन्धित, ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

शनिवार व्रत के लाभ : shanivar vrat ke labh in hindi : 

शनिवार का व्रत करने से भगवान श्री शनि देव जी को प्रसन्न करने के लिए रखा जाता हैं ! इसके साथ साथ शनिवार व्रत जब भी किया जाता है जब आपकी कुंडली में शनि ग्रह अच्छा परिणाम ना दे रहा हो या दशा और अंतर्दशा में अच्छा परिणाम नही दे रहा हो तो भी शनिवार व्रत करना लाभदायक रहता हैं ! शनिवार व्रत करने से जातक के जीवन में चल रही शत्रु बाधा या भय, आर्थिक परेशानी, मानसिक परेशानी और व्यापार में वृद्धि आदि समस्या से निज़ात मिलता हैं !

Join Now : सरकारी योजना की जानकरी के लिए : Click Here

Join Now : बिहार शिक्षा समाचार जानकारी के लिए : Click Here

Join Now : सेंटल शिक्षा समाचार जानकारी के लिए : Click Here

शनिवार के दिन क्या न करें : shanivar ke din kya na kare in hindi : 

शनिवार व्रत के जातक को अपनी बहु को पीहर नहीं भेजना चाहिए ! तेल, घी, लकड़ी, कोयला, नमक, और लोहे की वस्तु आदि खरीदना नहीं चाहिए ! 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>

जन्मकुंडली सम्बन्धित, ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

किसी भी तरह का यंत्र या रत्न प्राप्ति के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

बिना फोड़ फोड़ के अपने मकान व् व्यापार स्थल का वास्तु कराने के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500


नोट : ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या से परेशान हो तो ज्योतिष आचार्य पंडित ललित शर्मा पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

New Update पाने के लिए पंडित ललित ब्राह्मण की Facebook प्रोफाइल Join करें : Click Here

Related Post : 

शनि के उपाय ( Shani Ke Upay ) Shani Ke Totke

शनि शांति के उपाय ( Shani Shanti Ke Upay ) Shani Shanti Ke Liye Kare Ye Upay

शनि को मजबूत करने के उपाय ( Shani Ko Majboot Karne Ke Upay ) Shani Ko Majboot Kaise Kare

शनि को प्रसन्न करने के उपाय ( Shani Ko Prasan Karne Ke Upay ) Shani Dev Ko Kaise Khush Kare

शनि की महादशा के उपाय ( Shani Ki Mahadasha Ke Upay ) Shani Ki Dasha Or Antardasha Ke Upay

शनि ग्रह के लाल किताब के उपाय ( Shani Grah Ke Lal Kitab Ke Upay ) Lal Kitab Remedies for Saturn

शनि ग्रह के मंत्र ( Shani Grah Ke Mantra ) Shani Beej Mantra Or Shani Tantrik Mantra

श्री शनि चालीसा ( Shri Shani Chalisa ) Shani Chalisa

शनिवार की व्रत कथा ( Shanivar Ki Vrat Katha ) Saturday Fast Story

शनिवार व्रत की आरती ( Shanivar Vrat Ki Aarti ) Shanivar Ki Aarti

श्री शनि देव जी की आरती ( Shri Shani Dev Ji Ki Aarti ) Shani Dev Ji Ki Aarti

शनि स्तोत्र ( Shani Stotram ) Stotra Saturn

शनि ग्रह कवच ( Shani Graha Kavacha ) Shani Kavach Strotram

महाकाल शनि मृत्युंजय स्तोत्र ( Mahakal Shani Mrityunjaya Stotra ) Shani Mrityunjaya Stotra

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

ऑनलाइन पूजा पाठ ( Online Puja Path ) व् वैदिक मंत्र ( Vaidik Mantra ) का जाप कराने के लिए संपर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page