Sri Jagannathastakam || श्री जगन्नाथ अष्टकम || Sri Jagannatha Ashtakam

       

श्री जगन्नाथ अष्टकम, Sri Jagannatha Ashtakam, Jagannathastakam, Sri Jagannathastakam Ke Fayde, Sri Jagannathastakam Ke Labh, Sri Jagannathastakam Benefits, Sri Jagannathastakam Pdf, Sri Jagannathastakam Mp3 Download, Sri Jagannathastakam Lyrics, Sri Jagannathastakam in Mantra.

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

Sri Jagannathastakam || श्री जगन्नाथ अष्टकम || Sri Jagannatha Ashtakam

जगन्नाथ अष्टकम भगवान जगन्नाथ जी को समर्पित हैं ! Sri Jagannathastakam को नियमित रूप से पाठ करने से जातक की मन की शांति व् सारी बुराईयों नष्ट हो जाती हैं ! और इसके साथ साथ जगन्नाथ अष्टकम का पाठ करने से जातक स्वस्थ, धनी और सुखी समृद्ध की प्राप्ति होती हैं ! Sri Jagannathastakam आदि के बारे में बताने जा रहे हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 9667189678 Sri Jagannathastakam By Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi.

Sri Jagannathastakam || श्री जगन्नाथ अष्टकम || Sri Jagannatha Ashtakam

कदाचि त्कालिन्दी तटविपिनसङ्गीतकपरो

मुदा गोपीनारी वदनकमलास्वादमधुपः

रमाशम्भुब्रह्मा मरपतिगणेशार्चितपदो

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 1 ॥

भुजे सव्ये वेणुं शिरसि शिखिपिंछं कटितटे

दुकूलं नेत्रान्ते सहचर कटाक्षं विदधते

सदा श्रीमद्बृन्दा वनवसतिलीलापरिचयो

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 2 ॥

महाम्भोधेस्तीरे कनकरुचिरे नीलशिखरे

वसन्प्रासादान्त -स्सहजबलभद्रेण बलिना

सुभद्रामध्यस्थ स्सकलसुरसेवावसरदो

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 3 ॥

कथापारावारा स्सजलजलदश्रेणिरुचिरो

रमावाणीसौम स्सुरदमलपद्मोद्भवमुखैः

सुरेन्द्रै राराध्यः श्रुतिगणशिखागीतचरितो

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 4 ॥

रथारूढो गच्छ न्पथि मिलङतभूदेवपटलैः

स्तुतिप्रादुर्भावं प्रतिपद मुपाकर्ण्य सदयः

दयासिन्धु र्भानु स्सकलजगता सिन्धुसुतया

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 5 ॥

परब्रह्मापीडः कुवलयदलोत्फुल्लनयनो

निवासी नीलाद्रौ निहितचरणोनन्तशिरसि

रसानन्दो राधा सरसवपुरालिङ्गनसुखो

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 6 ॥

न वै प्रार्थ्यं राज्यं न च कनकितां भोगविभवं

न याचे2 हं रम्यां निखिलजनकाम्यां वरवधूं

सदा काले काले प्रमथपतिना चीतचरितो

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 7 ॥

हर त्वं संसारं द्रुततर मसारं सुरपते

हर त्वं पापानां वितति मपरां यादवपते

अहो दीनानाथं निहित मचलं निश्चितपदं

जगन्नाथः स्वामी नयनपथगामी भवतु मे ॥ 8 ॥

॥ इति जगन्नाथाकष्टकं ॥

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*