Shri Parshuram Aarti || श्री परशुराम आरती || Shri Parshuram Ji Ki Aarti

श्री परशुराम आरती, Shri Parshuram Aarti, Shri Parshuram Aarti Ke Fayde, Shri Parshuram Aarti Ke Labh, Shri Parshuram Aarti Benefits, Shri Parshuram Aarti Pdf, Shri Parshuram Aarti Mp3 Download, Shri Parshuram Aarti Lyrics. 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

Shri Parshuram Aarti || श्री परशुराम आरती || Shri Parshuram Ji Ki Aarti

भगवान श्री परशुराम भगवान श्री विष्णु जी के छठे अवतार है ! । भगवान श्री परशुराम जी ने दपारा युग में पिता सप्तर्षि जमदग्नी जी और माता देवी रेणुका के पुत्र थे ! भगवान श्री परशुराम ब्राह्मण सोसाइटी के संस्थापक यानी पिता के रूप में जाने जाते हैं ! उन्हें आठ साल की उम्र में चार पवित्र वेदों का ज्ञान था ! श्री परशुराम जी की आरती को नियमित करने से भगवान श्री परशुराम जी का आशीर्वाद प्राप्त होता हैं ! श्री परशुराम जी की आरती आदि के बारे में बताने जा रहे हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 9667189678 Shri Parshuram Aarti By Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi.

Shri Parshuram Aarti || श्री परशुराम आरती || Shri Parshuram Ji Ki Aarti

ओउम जय परशुधारी, स्वामी जय परशुधारी।

सुर नर मुनिजन सेवत, श्रीपति अवतारी।। ओउम जय।।

जमदग्नी सुत नरसिंह, मां रेणुका जाया।

मार्तण्ड भृगु वंशज, त्रिभुवन यश छाया।। ओउम जय।।

कांधे सूत्र जनेऊ, गल रुद्राक्ष माला।

चरण खड़ाऊँ शोभे, तिलक त्रिपुण्ड भाला।। ओउम जय।।

ताम्र श्याम घन केशा, शीश जटा बांधी।

सुजन हेतु ऋतु मधुमय, दुष्ट दलन आंधी।। ओउम जय।।

ADS : सरकारी नौकरी संबधित लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए इस Website पर जाए : Click Here

मुख रवि तेज विराजत, रक्त वर्ण नैना।

दीन-हीन गो विप्रन, रक्षक दिन रैना।। ओउम जय।।

कर शोभित बर परशु, निगमागम ज्ञाता।

कंध चार-शर वैष्णव, ब्राह्मण कुल त्राता।। ओउम जय।।

माता पिता तुम स्वामी, मीत सखा मेरे।

मेरी बिरत संभारो, द्वार पड़ा मैं तेरे।। ओउम जय।।

अजर-अमर श्री परशुराम की, आरती जो गावे।

पूर्णेन्दु शिव साखि, सुख सम्पति पावे।। ओउम जय।।

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Related Post : 

परशुराम जयंती की कथा || Parshuram Jayanti Ki Katha || Parshuram Jayanti Story

भगवान परशुराम जयंती पूजा विधि || Parshuram Jayanti Puja Vidhi || Parshuram Jayanti 2020 Puja Vidhi

परशुराम मंत्र || Parshuram Mantra || Parshuram Gayatri Mantra

परशुराम स्तुति || Parshuram Stuti

भगवान परशुराम स्तुति || Bhagwan Parshuram Stuti || Parshuram Stuti

परशुराम स्तवन || Parshuram Stavan || Lord Parshuram Stavan

श्री परशुराम चालीसा || Shri Parshuram Chalisa || Bhagwan Parshuram Chalisa

श्री परशुराम स्तोत्र || Shri Parshuram Stotram || Parasurama Stotra

श्री परशुराम अष्टकम || Sri Parshuram Ashtakam || Sri Parshuram Ashtak

श्री परशुराम अष्टकम || Sri Parshuram Ashtak || Shri Parshuram Ashtakam

श्रीमद् दिव्य परशुराम अष्टक स्तोत्र || Srimad Divya Parshuram Ashtakam Stotram

श्री परशुराम अष्टोत्तर शतनामावली || Shri Parshuram Ashtottara Shatanamavali

श्री परशुराम अष्टोत्तर शतनाम स्तोत्रम् || Shri Parashuram Ashtottara Shatanama Stotram

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*