शनिवार व्रत की आरती || Shanivar Vrat Ki Aarti || Shanivar Ki Aarti

शनिवार व्रत की आरती, Shanivar Vrat Ki Aarti, Shanivar Ki Aarti, शनिवार व्रत की आरती के फायदे, Shanivar Vrat Ki Aarti Ke Fayde, शनिवार व्रत की आरती के लाभ, Shanivar Vrat Ki Aarti Ke Labh, Shanivar Vrat Ki Aarti Benefits, Shanivar Vrat Ki Aarti in Hindi, Shanivar Vrat Ki Aarti Pdf, Shanivar Vrat Ki Aarti Mp3 Download, Shanivar Vrat Ki Aarti Lyrics. 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

हर महीनें का राशिफल, व्रत, ज्योतिष उपाय, वास्तु जानकारी, मंत्र, तंत्र, साधना, पूजा पाठ विधि, पंचांग, मुहूर्त व योग आदि की जानकारी के लिए अभी हमारे Youtube Channel Pandit Lalit Trivedi को Subscribers करना नहीं भूलें, क्लिक करके अभी Subscribers करें : Click Here

शनिवार व्रत की आरती || Shanivar Vrat Ki Aarti || Shanivar Ki Aarti

जो भी व्यक्ति शनिवार का उपवास करते है और शनिवार की पूजा अर्चना में शनिवार व्रत की आरती गाई जाती हैं ! शनिवार व्रत की आरती आदि के बारे में बताने जा रहे हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 9667189678 Shanivar Vrat Ki Aarti By Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi.

शनिवार व्रत की आरती || Shanivar Vrat Ki Aarti || Shanivar Ki Aarti

जय-जय रविनन्दन जय दुःख भंजन

जय-जय शनि हरे ॥टेक॥

जय भुजचारी, धारणकारी, दुष्ट दलन ॥१॥

तुम होत कुपित नित करत दुखित, धनि को निर्धन ॥२॥

तुम घर अनुप यम का स्वरूप हो, करत बंधन ॥३॥

तब नाम जो दस तोहि करत सो बस, जो करे रटन ॥४॥

ADS : सरकारी नौकरी संबधित लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए इस Website पर जाए : Click Here

महिमा अपर जग में तुम्हारे, जपते देवतन ॥५॥

सब नैन कठिन नित बरे अग्नि, भैंसा वाहन ॥६॥

प्रभु तेज तुम्हारा अतिहिं करारा, जानत सब जन ॥७॥

प्रभु शनि दान से तुम महान, होते हो मगन ॥८॥

प्रभु उदित नारायन शीश, नवायन धरे चरण ।

जय शनि हरे ।

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Related Post : 

शनि के उपाय ( Shani Ke Upay ) Shani Ke Totke

शनि शांति के उपाय ( Shani Shanti Ke Upay ) Shani Shanti Ke Liye Kare Ye Upay

शनि को मजबूत करने के उपाय ( Shani Ko Majboot Karne Ke Upay ) Shani Ko Majboot Kaise Kare

शनि को प्रसन्न करने के उपाय ( Shani Ko Prasan Karne Ke Upay ) Shani Dev Ko Kaise Khush Kare

शनि की महादशा के उपाय ( Shani Ki Mahadasha Ke Upay ) Shani Ki Dasha Or Antardasha Ke Upay

शनि ग्रह के लाल किताब के उपाय ( Shani Grah Ke Lal Kitab Ke Upay ) Lal Kitab Remedies for Saturn

शनि ग्रह के मंत्र ( Shani Grah Ke Mantra ) Shani Beej Mantra Or Shani Tantrik Mantra

श्री शनि चालीसा ( Shri Shani Chalisa ) Shani Chalisa

शनिवार की व्रत कथा ( Shanivar Ki Vrat Katha ) Saturday Fast Story

शनिवार व्रत की विधि ( Shanivar Vrat Ki Vidhi ) Shanivar Vrat Puja Vidhi

श्री शनि देव जी की आरती ( Shri Shani Dev Ji Ki Aarti ) Shani Dev Ji Ki Aarti

शनि स्तोत्र ( Shani Stotram ) Stotra Saturn

शनि ग्रह कवच ( Shani Graha Kavacha ) Shani Kavach Strotram

महाकाल शनि मृत्युंजय स्तोत्र ( Mahakal Shani Mrityunjaya Stotra ) Shani Mrityunjaya Stotra

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*