Mayuresh Stotra || मयूरेश स्तोत्र || Mayuresh Stotram

       

मयूरेश स्तोत्र, Mayuresh Stotra, Mayuresh Stotram, Mayuresh Stotra Ke Fayde, Mayuresh Stotra Ke Labh, Mayuresh Stotra Benefits, Mayuresh Stotra Pdf, Mayuresh Stotra Mp3 Download, Mayuresh Stotra Lyrics. 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

Mayuresh Stotra || मयूरेश स्तोत्र || Mayuresh Stotram

यह तो आप सब पहले से जानते हो की भगवान श्री गणेश जी प्रथम पूज्य माने गए हैं। जीवन के हर क्षेत्र में सफलता पाने के लिए गणपति जी को सबसे पहले याद किया जाता है। परिवार की सुख-शांति, मानसिक परेशानी, समृद्धि और चारों ओर प्रगति, चिंता, रोग निवारण, भोग एवं मोक्ष प्रदान के लिए मयूरेश स्तोत्र सिद्ध एवं तुरंत असरकारी माना गया है। मयूरेश स्तोत्र एक ऐसा स्तोत्र है जो इसका पाठ कारागार में पडे हुए मनुष्यों को भी छुड़ा लाने में सामर्थ है । मयूरेश स्तोत्र का पाठ किसी भी चतुर्थी तिथि से कर सकते हैं। अंगारक चतुर्थी पर मयूरेश स्तोत्र पढ़ने से इसका फल सहस्त्र गुना बढ़ जाता है।  राजा इंद्र ने मयूरेश स्तोत्र से गणेशजी को प्रसन्न कर विघ्नों पर विजय प्राप्त की थी। मयूरेश स्तोत्र आदि के बारे में बताने जा रहे हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 9667189678 Mayuresh Stotra By Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi.

Mayuresh Stotra || मयूरेश स्तोत्र || Mayuresh Stotram

ब्रह्मा उवाच

पुराणपुरुषं देवं नानाक्रीडाकरं मुदा ।

मायाविनं दुर्विभाव्यं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ १ ॥

परात्परं चिदानन्दं निर्विकारं हृदि स्थितम् ।

गुणातीतं गुनमयं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ २ ॥

सृजन्तं पालयन्तं च संहरन्तं निजेच्छया ।

सर्वविघ्नहरं देवं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ ३ ॥

नानादैत्यनिहन्तारं नानारुपाणि बिभ्रतम् ।

नानायुधधरं भक्त्या मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ ४ ॥

इन्द्रादिदेवतावृन्दैरभिष्टुतमहर्निशम् ।

सदसद्व्यक्तमव्यक्तं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ ५ ॥

सर्वशक्तिमयं देवं सर्वरुपधरं विभुम् ।

सर्वविद्याप्रवक्तारं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ ६ ॥

पार्वतीनन्दनं शम्भोरानन्दपरिवर्धनम् ।

भक्तानन्दकरं नित्यं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ ७ ॥

मुनिध्येयं मुनिनुतं मुनिकामप्रपुरकम् ।

समष्टिव्यष्टिरुपं त्वां मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ ८ ॥

सर्वाज्ञाननिहन्तारं सर्वज्ञानकरं शुचिम् ।

सत्यज्ञानमयं सत्यं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ ९ ॥

अनेककोटिब्रह्माण्डनायकं जगदीश्र्वरम् ।

अनन्तविभवं विष्णुं मयूरेशं नमाम्यहम् ॥ १० ॥

मयूरेश उवाच

इदं ब्रह्मकरं स्तोत्रं सर्वपापप्रनाशनम् ।

सर्वकामप्रदं नृणां सर्वोपद्रवनाशनम् ॥ ११ ।

कारागृहगतानां च मोचनं दिनसप्तकात् ।

आधिव्याधिहरं चैव भुक्तिमुक्तिप्रदं शुभम् ॥ १२॥

॥ इति श्रीमयूरेशस्तोत्रं संपूर्णम् ॥

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*