मौनी अमावस्या के उपाय || Mauni Amavasya Ke Upay

       

मौनी अमावस्या के उपाय, Mauni Amavasya Ke Upay, Mauni Amavasya Ke Upay Batao, Mauni Amavasya Ke Upay Kya Hai, Mauni Amavasya Ke Upay, Mauni Amavasya Ke Upay Chahiye.

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

हर महीनें का राशिफल, व्रत, ज्योतिष उपाय, वास्तु जानकारी, मंत्र, तंत्र, साधना, पूजा पाठ विधि, पंचांग, मुहूर्त व योग आदि की जानकारी के लिए अभी हमारे Youtube Channel Pandit Lalit Trivedi को Subscribers करना नहीं भूलें, क्लिक करके अभी Subscribers करें : Click Here

मौनी अमावस्या के उपाय || Mauni Amavasya Ke Upay 

माघ मास में आने वाली अमावस्या “मौनी अमावस्या” के नाम से जानी जाती है ! “मौनी अमावस्या” का बड़ा महत्व माना जाता है ! इस दिन मौन व्रत धारण करना चाहिए ! इस दिन मौन धारण करते हुए सूर्य उदय से पहले स्नान करना लाभकारी रहता है ! इस दिन धार्मिक स्थल पर जाकर स्नान करने से पुण्य मिलता है ! ऐसा माना जाता है की इस दिन संगम पर देव व् देवता स्नान करने आते है ! इसलिए इस दिन गंगा स्नान करने के लिए कहा जाता है ! यह मास भी कार्तिक मास के सामान पुण्य मास कहलाता है ! हम यंहा आपको Mauni Amavasya Ke Upay बताने जा रहे हैं ! जिन्हें करने से आपके जीवन में चल रही कुछ समस्या का निवारण हमारे द्वारा बताये गये सरल उपाय से हो जायेगा ! बताये गये Mauni Amavasya Ke Upay व् टोटके को आपको मौनी अमावस्या वाले दिन आस्था व् विश्वास के साथ करने हैं ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे मौनी अमावस्या के उपाय || Mauni Amavasya Ke Upay को पढ़कर आप भी मौनी अमावस्या वाले दिन अपनी कुछ समस्या को बड़ी आसानी से मुक्ति पा सकोगें !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 9667189678 Mauni Amavasya Ke Upay By Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi.

मौनी अमावस्या के उपाय || Mauni Amavasya Ke Upay

पितृ दोष दूर करने के मौनी अमावस्या के उपाय || Pitra Dosh Dur Karne Ke Mauni Amavasya Ke Upay :

हिन्दू धर्म में सब तिथि के अलग अलग देवता होते है उसी तरह अमावस्या तिथि को पितृ की तिथि माना जाता है ! पितृ दोष की शांति के लिए बताये जा रहे Mauni Amavasya Ke Upay को आप अपने घर में सुबह जल्दी उठ कर नित्य कर्म से निवृत होकर खीर व् 2 रोटी बनाये उसके बाद सुलगते हुए उपले लेकर उस पर शुद्द घी डालकर अग्नि लगाये ! फिर खीर का भोग थोड़ी सी रोटी का टुकड़ा लेकर अपने पितरों को याद करते हुए लगाये ! व् शुद्द जल साथ में लेकर जल को हाथ में लेकर अग्नि में थोड़े से पितरों को याद करते हुए छिड़े लगाये ! उसके बाद इस खीर को व् रोटी को गाय को खिला दें ! उसके बाद घर के सदस्य भोजन करें ! ऐसा करने से पितृ खुश होते है ! यदि आप खीर नही बना सकते तो गुड़ का भी भोग लगा सकते है ! 

Mauni Amavasya वाले दिन जातक को शाम के दिन पीपल के वृक्ष के नीचे दीपक जलना चाहिए ! 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

परेशानी को दूर करने के मौनी अमावस्या के उपाय || Pareshani Dur Karne Ke Mauni Amavasya Ke Upay :

मौनी अमावस्या वाले दिन वाले दिन स्नान कर बाद आटे की छोटी छोटी गोलियां बनाये उसमे राम नाम लिखकर पर्ची आटे की बनी गोलियां में डाल दें उसके बाद अपने समीप स्थित किसी तालाब व् नदी में जाकर अपने इष्ट देव को याद करते हुए उन आटे की बनी गोलियों को मछलियों को खिला दें ! बताये गए इस Mauni Amavasya Ke Upay को करने से जातक के जीवन में चल रही छोटी छोटी समस्या समाप्त हो जाएगी !

मनोकामना पूर्ति के मौनी अमावस्या के उपाय || Manokamna Purti Ke Mauni Amavasya Ke Upay :

Mauni Amavasya वाले दिन अपने समर्थ के अनुसार आटे को थोडा सा सेक कर उसमे शक्कर मिलकर चीटियों को डालें जल्दी सुबह ऐसा करने से आपके द्वारा किये गये जाने अनजाने पाप समाप्त हो जायेगे ! व आपकी मनोकामनाए पूर्ण होगी !

लक्ष्मी प्राप्ति के मौनी अमावस्या के उपाय || Lakshmi Prapti Ke Mauni Amavasya Ke Upay :

मौनी अमावस्या वाले दिन संध्या के समय आप अपने घर के ईशान कोण यानि पूर्व व् उत्तर के बीच की दिशा में गाय के घी का दीपक जलाइए ! उसमे रुई की बत्ती की जगह मोली का प्रयोग करें व् दीये में थोडा सा केसर भी डाल दें ! बताये गए इस Mauni Amavasya Ke Upay को करने से आपके घर पर सदेव माँ लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहेगी ! व आपकी आर्थिक स्थिति सही हो जाएगी !

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

व्यापार वृद्धि के मौनी अमावस्या के उपाय ||  Vyapar Vridhi Ke Mauni Amavasya Ke Upay :

Mauni Amavasya के दिन श्री हनुमान जी के मंदिर में जाकर श्री हनुमान जी को चोला चढ़ाना चाहिए व मीठा पान भी अर्पण करें उसके बाद वही पर बैठकर “श्री हनुमान चालीसा” व “सुन्दरकाण्ड” का पाठ करें ! यदि आप सुन्दरकाण्ड नही कर सकते तो “श्री हनुमान चालीसा” कर लें ! ऐसा करने से आपकी सब मनोकनाएं पूर्ण होगी और आपके जीवन में आ रही समस्या से निजात मिल जायेगा व आपका व्यापार में वृद्दि होगी !

धन लाभ व धन प्राप्ति के मौनी अमावस्या के उपाय || Dhan Prapti Ke Mauni Amavasya Ke Upay :

मौनी अमावस्या वाली रात में करीब 10 बजे के बाद आप नहा धोकर नए पीले रंग के कपडे पहन कर या साफ़ कपडे पहन कर पश्चिम दिशा की और मुंह करके ऊन या कुश के आसन पर बैठ जाये ! उसके बाद अपने सामने चोकी लेकर उस पर कासें का बरतन लेकर उस पर केसर का स्वस्तिक या ऊं बनाकर श्री महालक्ष्मी यंत्र की स्थापना करें ! व दक्षिणावर्ती शंख लें ! उसके बाद केसर से रंगे चावल को दक्षिणावर्ती शंख में डालें ! व घी का दीपक जलाकर दिए गये मंत्र का जाप स्फटिक या कमलगट्टे की माला से 11 बार जाप करें ! ऐसा के बाद पूजन सामग्री को बहते हुए जल में विसर्जित कर दें ! इस Mauni Amavasya Ke Upay से आपको श्री माँ लक्ष्मी जी की कृपा प्राप्ति होगी ! मंत्र : सिद्धि बुद्धि प्रदे देवि मुक्ति भुक्ति प्रदायिनी। मंत्र पुते सदा देवी महालक्ष्मी नमोस्तुते ।।

कालसर्प दोष के मौनी अमावस्या के उपाय || Kaal Sarp Dosh Ke Mauni Amavasya Ke Upay : 

१. जिन भी जातक के कालसर्प दोष है वह जातक Mauni Amavasya वाले दिन जल्दी उठकर नित्य कर्म से निवृत होकर स्नान करके साफ़ कपडे पहन लें !

२. चांदी से बने हुए नाग व् नागिन की पूजा करें व् सफ़ेद फ़ुल के साथ बहते हुए जल में बहा दें ! ऐसा करने से जातक के जीवन में कालसर्प के कारण हो रही परेशानी से निजात मिल जायेगा !

३. कालसर्प वाले जातक को इस दिन “लघु रुद्र” का पाठ करना चाहिए यदि आप नही कर सकते तो आप किसी पंडित जी से करा सकते हो !

४. कालसर्प दोष के जातक को गरीबों को दान देना चाहिए !

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

५. कालसर्प दोष के जातक को “नवनाग स्तोत्र” का पाठ करना चाहिए ! नवनाग स्तोत्र के लिए क्लिक करें : Click Here

६. कालसर्प दोष के जातक को मौनी अमावस्या पर सुबह नहाने के बाद अपने घर के पास के शिव जी के मंदिर जाकर शिवलिंग पर तांबे के बने नाग व् नागिन को श्रदा के साथ चढ़ाये ! और वही मंदिर में बैठकर “महामृत्युंजय मंत्र” का जाप करें ! ऐसा करने से जातक के कालसर्प दोष से मुक्ति मिलती है !

७. यदि कालसर्प दोष के जातक Mauni Amavasya के दिन बहते हुए जल में सफेद रंग के फूल, बताशे, कच्चा दूध, सफेद कपड़ा, चावल आदि प्रवाहित करने से कालसर्प दोष में शांति मिलती है !

८. Mauni Amavasya वाले दिन कालसर्प यंत्र की स्थापना करके उसकी पूजा करने से कालसर्प दोष से मुक्ति मिलती है ! कालसर्प यंत्र  पाने के लिए अभी  करें : मोबाइल नंबर : 9667189678

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*