श्री दुर्गा चालीसा ( Shri Durga Chalisa ) Durga Chalisa

       

श्री दुर्गा चालीसा [ Shri Durga Chalisa & Durga Chalisa ]

श्री दुर्गा चालीसा के लाभ : shri durga chalisa ke labh : श्री दुर्गा चालीसा माँ श्री दुर्गा देवी को समर्पित हैं !श्री दुर्गा चालीसा का माँ श्री दुर्गा देवी की पूजा अर्चना में की जाती हैं ! श्री दुर्गा चालीसा को पढ़ने से माँ श्री दुर्गा देवी को आसानी से प्रसन्न किया जाता हैं ! और अपने भक्त को आशीर्वाद देती हैं । श्री दुर्गा चालीसा, shri durga chalisa in hindi, durga chalisa in hindi, श्री दुर्गा चालीसा के फ़ायदे, shri durga chalisa ke fayde in hindi, श्री दुर्गा चालीसा के लाभ, shri durga chalisa ke labh in hindi, shri durga chalisa mp3 download, shri durga chalisa pdf in hindi, shri durga chalisa lyrics in hindi, shri durga chalisa ke benefits in hindi आदि के बारे में बताने जा रहे हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 7821878500 shri durga chalisa by acharya pandit lalit sharma 

श्री दुर्गा चालीसा !! shri durga chalisa in hindi

या  देवी  सर्वभुतेषु  मातृरूपेण   संस्थिता ।

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ॥

 नमो नमो दुर्गे सुख करनी । नमो नमो अम्बे दुःख हरनी ॥

निराकार है ज्योति तुम्हारी । तिहूं लोक फैली उजियारी ॥

शशि ललाट मुख महाविशाला । नेत्र लाल भृकुटी विकराला ॥

रूप मातु को अधिक सुहावे । दरश करत जन अति सुख पावे ॥

तुम संसार शक्ति लै कीना । पालन हेतु अन्न धन दीना ॥

अन्नपूर्णा हुई जग पाला । तुम ही आदि सुन्दरी बाला ॥

प्रलयकाल सब नाशन हारी । तुम गौरी शिव शंकर प्यारी ॥

शिव योगी तुम्हरे गुण गावें । ब्रह्मा विष्णु तुम्हें नित ध्यावें ॥

रुप सरस्वती को तुम धारा । दे सुबुद्धि ॠषि मुनिन उबारा ॥

धरा रूप नरसिंह को अम्बा । प्रकट भई फाडकर खम्बा ॥

रक्षा करि प्रह्लाद बचायो । हिरण्याक्ष को स्वर्ग पठायो ॥

लक्ष्मी रूप धरो जग माहीं । श्री नारायण अंग समाहीं ॥

क्षीरसिन्धु में करत विलासा । दयासिन्धु दीजै मन आसा ॥

हिंगलाज में तुम्हीं भवानी । महिमा अमित न जात बखानी ॥

मातंगी धूमावति माता । भुवनेश्वरि बगला सुखदाता ॥

श्री भैरव तारा जग तारिणि । छिन्न भाल भव दुःख निवारिणि ॥

केहरि वाहन सोह भवानी । लांगुर वीर चलत अगवानी ॥

कर में खप्पर खड्ग विराजे । जाको देख काल डर भागे ॥

सोहे अस्त्र और त्रिशूला । जाते उठत शत्रु हिय शुला ॥

नगरकोट में तुम्हीं विराजत । तिहूं लोक में डंका बाजत ॥

शुंभ निशुंभ दानव तुम मारे । रक्तबीज शंखन संहारे ॥

महिषासुर नृप अति अभिमानी । जेहि अघ भार मही अकुलानी ॥

रूप कराल कालिका धारा । सैन्य सहित तुम तिहि संहारा ॥

परी गाढं संतन पर जब जब । भई सहाय मातु तुम तब तब ॥

अमरपूरी अरू बासव लोका । तब महिमा रहें अशोका ॥

ज्वाला में है ज्योति तुम्हारी । तुम्हें सदा पूजें नर नारी ॥

प्रेम भक्ति से जो यश गावे । दुःख दारिद्र निकट नहिं आवे ॥

ध्यावे तुम्हें जो नर मन लाई । जन्म मरण ताको छुटि जाई ॥

जोगी सुर मुनि कहत पुकारी । योग न हो बिन शक्ति तुम्हरी ॥

शंकर आचारज तप कीनो । काम अरु क्रोध जीति सब लीनो ॥

निशिदिन ध्यान धरो शंकर को । काहु काल नहीं सुमिरो तुमको ॥

शक्ति रूप को मरम न पायो । शक्ति गई तब मन पछतायो ॥

शरणागत हुई कीर्ति बखानी । जय जय जय जगदंब भवानी ॥

भई प्रसन्न आदि जगदम्बा । दई शक्ति नहिं कीन विलंबा ॥

मोको मातु कष्ट अति घेरो । तुम बिन कौन हरै दुःख मेरो ॥

आशा तृष्णा निपट सतावें । मोह मदादिक सब विनशावें ॥

शत्रु नाश कीजै महारानी । सुमिरौं इकचित तुम्हें भवानी ॥

करो कृपा हे मातु दयाला । ॠद्धि सिद्धि दे करहु निहाला ॥

जब लगि जिऊं दया फल पाऊं । तुम्हरो यश मैं सदा सुनाऊं ॥

दुर्गा चालीसा जो नित गावै । सब सुख भोग परम पद पावै ॥

देवीदास शरण निज जानी । करहु कृपा जगदम्ब भवानी ॥

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>

जन्मकुंडली सम्बन्धित, ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

किसी भी तरह का यंत्र या रत्न प्राप्ति के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

बिना फोड़ फोड़ के अपने मकान व् व्यापार स्थल का वास्तु कराने के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500


नोट : ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या से परेशान हो तो ज्योतिष आचार्य पंडित ललित शर्मा पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

New Update पाने के लिए पंडित ललित ब्राह्मण की Facebook प्रोफाइल Join करें : Click Here

Related Post : 

गुप्त नवरात्र स्थापना मुहूर्त ( Gupt Navratri Sthapana Muhurat ) Gupt Navratri 2018 Vrat Dates

गुप्त नवरात्रि की पूजा विधि ( Gupt Navratri Ki Puja Vidhi ) Kaise Kare Gupt Navratri Puja Vidhi

गुप्त नवरात्रि का महत्व ( Gupt Navratri Ka Mahatva ) Gupt Navratri Puja Ke Labh

गुप्त नवरात्रि मंत्र ( Gupt Navratri Mantra ) Gupt Navratri Me Kare Ye Mantra

गुप्त नवरात्रि के उपाय ( Gupt Navratri Ke Upay ) Gupt Navratri Me Kare Ye Upay

गुप्त नवरात्रि के टोटके ( Gupt Navratri Ke Totke ) Gupt Navratri Me Kare Ye Totke

राशि अनुसार गुप्त नवरात्रि के उपाय ( Rashi Anusar Gupt Navratri Ke Upay ) Gupt Navratri Me Rashi Anusar Kare Ye Upay

राशि अनुसार गुप्त नवरात्रि के मंत्र ( Rashi Anusar Gupt Navratri Ke Mantra ) Gupt Navratri Me Rashi Anusar Kare Ye Mantra

माँ दुर्गा देवी जी की आरती ( Maa Durga Devi Ji Ki Aarti ) Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti

दस महाविद्या साधना विधि ( Das Mahavidhya Sadhana Vidhi )

माँ दुर्गा को प्रसन्न करने के उपाय ( Maa Durga Ko Prasann Karne Ke Upay ) Maa Durga Ko Prasann Kaise Kare

माँ दुर्गा देवी के मंत्र ( Maa Durga Devi Ke Mantra ) Mata Durga Devi Mantra

दुर्गा सप्तशती के सिद्ध मंत्र ( Durga Saptashati Ke Siddha Mantra ) Durga Saptashati Ke Beej Mantra

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

ऑनलाइन पूजा पाठ ( Online Puja Path ) व् वैदिक मंत्र ( Vaidik Mantra ) का जाप कराने के लिए संपर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*