गुरु की दशा और अन्तर्दशा में करें यह उपाय !! Guru Ki Dasha or Antardasha Me Karen Yah Upay

       

गुरु की दशा और अन्तर्दशा में करें यह उपाय [ Guru Ki Dasha or Antardasha Me Karen Yah Upay ] :

आज हम आपके लिए गुरु ग्रह के उपाय बताने जा रहे है ! यदि आपकी कुंडली में गुरु नीच का हो या अशुभ परिणाम दे रहा हो या गुरु की दशा, अंतर्दशा व् गोचर आपके जीवन में किसी परेशानी का कारन बन रही हो उस सब के लिए हम आपको गुरु की दशा और अन्तर्दशा में करें यह उपाय बताने जा रहे है ! जिन्हें आप करके अपने जीवन में गुरु ग्रह द्वारा चल रही परेशानी से मुक्ति पा सकोगे ! Jyotish Acharya Pandit Lalit Sharma द्वारा बताये गये गुरु की दशा और अन्तर्दशा में करें यह उपाय को करके आप भी अपने जीवन में चल गुरु की दशा, अंतर्दशा व् गोचर के कारन परेशानी से निजात पा सकोगे !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

Related Post : 

गुरु ग्रह के उपाय || Guru Grah Ke Upay

गुरु ग्रह की शांति के उपाय || Guru Grah Ki Shanti Ke Upay

गुरु को मजबूत करने के उपाय || Guru Ko Majboot Karne Ke Upay

गुरु को प्रसन्न करने के उपाय || Guru Ko Prasan Karne Ke Upay

गुरु ग्रह के लाल किताब उपाय || Guru Grah Ke Lal Kitab Upay

गुरू ग्रह के मंत्र || Guru Grah Ke Mantra

  • गुरु ग्रह की दशा व् अंतर्दशा में गुरुवार का उपवास रखें व् इस दिन पीले कपडे पहने, खाना बिना नमक का खाएं ! हो सके तो भोजन में पीले रंग की वस्तु खाए ! जैसे केले, बेसन की मिठाई आदि !
  • गुरु ग्रह की दशा व् अंतर्दशा में ज्योतिष से सलाह ले कर पुखराज या उपरत्न सुनेला धारण करना चाहिए !
  • गुरु ग्रह की दशा व् अंतर्दशा में जातक को अपने शरीर पर सोने से बनी वस्तु धारण करनी चाहिए !
  • 10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

  • गुरु ग्रह की दशा व् अंतर्दशा में  गुरुवार के दिन गाय का घी, शहद, हल्दी, पीले कपड़े, किताबें, गरीब कन्याओं को भोजन का दान अौर गुरुओं की सेवा करें !
  • गुरु ग्रह की दशा व् अंतर्दशा में यदि जातक पुखराज नही पहन सकता है तो हल्दी की गांठ लाकर उसे पीले कपडे में बांधकर अपने सीधे हाथ की बाजु में बांध लेना चाहिए !
  • यदि जातक की कुंडली में शनि व् गुरु एक साथ होने के कारण कष्ट सहन करना पड़ रहा है तो जातक को बरगद की 108 परिक्रमा लगातार 45 दिनों तक लगाने से निवारण मिल जाता है !
  • यदि आप मिथुन या कन्या लग्न के जातक है और गुरु आपकी कुंडली में ६,८ या १२ भाव में है तो गुरु के गोचर या दशा में जातक को सोने की बनी हुई चोकोर प्लेट या पुखराज बराबर मात्रा में दो टुकड़े लेकर उन में से एक को शादी के समय बहते हुए जल में प्रवाहित कर दे व् दुसरे को आजीवन अपने पास रखें एसा करने से गुरु आपके जीवन में बुरे प्रभाव नही डालेगा !
  • यदि जातक की कुंडली में गुरु उच्च का है तो गुरु की वस्तु का दान ने करें और यदि नीच का है तो कभी गुरु की वस्तु का दान ना लें !
  • यदि गुरु के कारण वैवाहिक जीवन में समस्या आ रही है तो स्त्रियां गुरुवार को हल्दी का उबटन बना कर अपने शरीर में लगाये ऐसा करने से उनके दांपत्य जीवन में प्यार बढ़ने लग जायेगा !
  • यदि आप गुरु के कारण अनिद्रा के शिकार हो रहे हो तो जातक को 11 बृहस्पतिवार तक केवांच की जड़ का लेप अपने माथे पर करने से हो रही समस्या से निजात मिल जायेगा !

  • ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या के लिए कॉल करें : 7821878500 ( Paid Services )
  • यदि जातक के जीवन में गुरु के कारन विवाह में रुकावट आ रही है तो गुरुवार का व्रत अौर देवगुरु बृहस्पति के सामने गाय के घी का दीपक प्रज्वलित करने से समस्या दूर होने लगती है !
  • गुरु ग्रह के अशुभ होने के कारन से शादी नही हो प् रही है तो कुवांरी कन्या को शुक्ल पक्ष से प्रत्येक 11 गुरुवार तक जल में थोड़ी-सी हल्दी मिलाकर स्नान करना चाहिए !
  • गुरुवार को बाल कटवाने से आर्थिक हानि, संतान कष्ट व ज्ञान क्षीणता होने के आसार होते हैं !
  • कारोबार में भाई का साथ लाभकारी संबंध मधुर बनाये !
  • यदि गुरु के कारण धन की वृद्दि में परेशानी आ रही है तो दिए गये सब मंत्रो का जाप १९००० बार करना चाहिए एसा करने से आपकी धन सम्बंधित समस्या का निजात हो जायेगा आप किसी भी एक गुरु मंत्र का जप हर गुरुवार के दिन भी कर सकते है ! मंत्र : ॐ बृं बृहस्पतये नमः ||
    • ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरवे नम:।
    • ॐ ऐं श्रीं बृहस्पतये नम:।
    • ॐ गुं गुरवे नम:।
    • ॐ क्लीं बृहस्पतये नम:।
  • ज्योतिष सम्बन्धित व् वास्तु सम्बन्धित समस्या के लिए कॉल करें : 7821878500 ( Paid Services )
  • किसी भी तरह का यंत्र या रत्न प्राप्ति के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500
  • बिना फोड़ फोड़ के अपने मकान व् व्यापार स्थल का वास्तु कराने के लिए कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आपके जीवन में भी गुरु ग्रह के कारण किसी भी तरह की परेशानी आ रही हो तो अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित ब्राह्मण पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

Related Post : 

गुरु ग्रह के उपाय || Guru Grah Ke Upay

गुरु ग्रह की शांति के उपाय || Guru Grah Ki Shanti Ke Upay

गुरु को मजबूत करने के उपाय || Guru Ko Majboot Karne Ke Upay

गुरु को प्रसन्न करने के उपाय || Guru Ko Prasan Karne Ke Upay

गुरु ग्रह के लाल किताब उपाय || Guru Grah Ke Lal Kitab Upay

गुरू ग्रह के मंत्र || Guru Grah Ke Mantra

गुरु स्तोत्र || Guru Stotram

श्री बृहस्पति स्तोत्रम् || Shri Brihaspati Stotram

गुरु कवच || Guru Kavacham

बृहस्पति कवच || Brihaspati Kavacham

गुरु अष्टोत्तर शतनामावली || Guru Ashtottara Shatanamavali

गुरु अष्टोत्तर शतनाम || Guru Ashtottara Shatanama

बृहस्पति अष्टोत्तर शतनामावली || Brihaspati Ashtottara Shatanamavali

गुरु अष्टोत्तर शतनामावली स्तोत्रम् || Guru Ashtottara Shatanamavali Stotram

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*