चन्द्रमा ग्रह के लाल किताब के उपाय ( Chandra Grah Ke Lal Kitab Ke Upay ) Lal Kitab Remedies for Moon

       

चन्द्रमा ग्रह के लाल किताब के उपाय [ Chandra Grah Ke Lal Kitab Ke Upay or Lal Kitab Remedies for Moon ]

आज हम आपको चन्द्रमा ग्रह के प्रत्येक भाव के लाल किताब के उपाय बताने जा रहे हैं ! चन्द्रमा ग्रह के लाल किताब के उपाय ( chandra grah ke lal kitab ke upay ) को करके आप चन्द्रमा ग्रह को बहुत आसानी से अनुकूल कर सकते हैं ! यंहा हम आपको चन्द्रमा ग्रह के प्रत्येक भाव में स्तिथि के अनुसार चन्द्रमा ग्रह के लाल किताब के टोटके ( chandra grah ke lal kitab ke totke ) बताने जा रहे हैं ! जिन्हें आपको करने में और समझने में भी बड़ी आसानी होगी ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Sharma द्वारा बताये जा रहे चन्द्रमा ग्रह के लाल किताब के उपाय ( Chandra Grah Ke Lal Kitab Ke Upay ) को पढ़कर आप भी चन्द्रमा ग्रह से होने वाली समस्या को बड़ी आसन उपाय से मुक्ति पा सकोगें !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

Related Post : 

चन्द्र ग्रह के उपाय || Chandra Grah Ke Upay

चन्द्र ग्रह की शांति के उपाय || Chandra Grah Ki Shanti Ke Upay

चन्द्र को मजबूत करने के उपाय || Chandra Ko Majboot Karne Ke Upay

चन्द्र को प्रसन्न करने के उपाय || Chandra Ko Prasan Karne Ke Upay

चन्द्र की महादशा और अंतर्दशा के उपाय || Chandra Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay

चन्द्र ग्रह के मंत्र || Chandra Grah Ke Mantra

पहले भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Pahale House Me Chandra Grah Ke Upay

  • प्रथम / पहले में स्थित चन्द्रमा ( Pahale House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को 24 से 27 वर्ष की आयु के मध्य शादी नहीं करनी चाहिए या तो 24 साल के पहले अथवा 27 साल के बाद ही शादी करनी चाहिए !
  • लग्नेश चन्द्रमा ( first House Ke Moon ) होने पर जातक को 24 से 27 वर्ष की आयु के मध्य अपनी कमाई से घर का निर्माण नहीं करना चाहिए !
  • पहले खाने में चन्द्रमा ( Pratham / Pahale House Chandra / Moon ) होने पर जातक को हरे रंग और पत्नी की बहन अर्थात साली से दूर रहना चाहिए !
  • प्रथम / पहले खाने में चन्द्रमा होने पर जातक को घर में टोटी के साथ या पास एक चांदी के बर्तन या केतली न रखें !
  • लग्न में चन्द्रमा ( Moon in first House ) होने पर जातक को बरगद की जड़ में पानी डालना चाहिए !
  • प्रथम भाव में चन्द्रमा ( Moon in the 1st House ) हो तो जातक चारपाई के चारों पायों में तांबें की कीलें ठोके !
  • प्रथम / पहले में स्थित चन्द्रमा ( Pahale House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को अपने बच्चों के कल्याण के लिए जब भी एक नदी पार करें, हमेशा उसमें एक सिक्का डालें.
  • लग्नेश चन्द्रमा ( first House Ke Moon ) होने पर जातक को हमेशा अपने घर में चांदी की एक थाली रखें.
  • पहले खाने में चन्द्रमा ( Pratham / Pahale House Chandra / Moon ) होने पर जातक को पानी या दूध पीने के लिए हमेशा चांदी के बर्तन का प्रयोग करें, कांच के बने बर्तन के उपयोग से बचें.

दुसरे भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Dusre House Me Chandra Grah Ke Upay

  • द्वितीय / दुसरे में स्थित चन्द्रमा ( Dusre House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को घर के भीतर मंदिर का होना जातक की पुत्र प्राप्ति में बाधक हो सकता है.
  • दुसरे खाने में चन्द्रमा ( Second House Ke Moon ) होने पर चंद्रमा से सम्बंधित चीजें जैसे चांदी, चावल, घर की कच्ची फर्श, मां और बुजुर्ग महिलाएं तथा उनका आशीर्वाद जातक के लिए बहुत भाग्यशाली रहेंगे.
  • द्वितीनेश चन्द्रमा ( Dvitiya / Dusre House Chandra / Moon ) होने पर जातक को लगातार 43 दिनों तक कन्याओं (छोटी लड़कियों) को हरा कपडा बांटें.
  • द्वितीय / दुसरे खाने में चन्द्रमा होने पर जातक चंद्रमा से सम्बंधित चीजें जैसे चांदी का एक चौकोर टुकड़ा अपने घर की नीव में दबाएं.

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

तीसरे भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Tisre House Me Chandra Grah Ke Upay

  • तृतीय / तीसरे में स्थित चन्द्रमा ( Tisre House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को पुत्री के जन्म के बाद चन्द्रमा से सम्बंधित चीजें जैसे चांदी और चावल आदि का दान करें तथा पुत्र के जन्म के बाद सूर्य से सम्बंधित चीजें जैसे गेहूं और गुड़ आदि का दान करें.
  • तीसरे खाने में चन्द्रमा ( Third House Ke Moon ) होने पर जातक को अपनी बेटी के पैसे और धन का उपयोग न करें.
  • तृतीय भाव में चन्द्रमा ( Tritiy / Tisre House Chandra / Moon ) होने पर आठवें घर में स्थित बुरे ग्रह के दुष्प्रभाव से बचने के लिए, मेहमानों और दूसरों को खुलकर दूध और पानी बांटें.
  • तृतीय / तीसरे खाने में चन्द्रमा होने पर जातक दुर्गा देवी की पूजा करें तथा कन्याओं को भोजन और मिठाई देकर उनके पांव छुएं और आशिर्वाद लें.

हमारे Youtube चैनल को अभी SUBSCRIBES करें ||

मांगलिक दोष निवारण || Mangal Dosha Nivaran

दी गई YouTube Video पर क्लिक करके मांगलिक दोष के उपाय || Manglik Dosh Ke Upay बहुत आसन तरीके से सुन ओर देख सकोगें !

चौथे भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Chauthe House Me Chandra Grah Ke Upay

  • चतुर्थ / चौथे में स्थित चन्द्रमा ( Chauthe House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को लाभ कमाने के लिए दूध का खोया बनाना अथवा दूध बेचना आदि कार्य से आमदनी, जीवन के विस्तार और मानसिक शांति पर बहुत प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा अतः इससे बचें.
  • चौथे भाव में स्थित चन्द्रमा ( fourth House Ke Moon ) होने पर जातक को व्यभिचार और अनैतिक सम्बंध जातक की प्रतिष्ठा और आर्थिक मामलों के लिए हानिकारक होगें इसलिए इनसे बचाव जरूरी है.
  • चतुर्थ भाव में चन्द्रमा ( Chaturth / Chauthe House Chandra / Moon ) होने पर जातक को अधिक खर्च, अधिक आय.
  • चतुर्थ / चौथे खाने में चन्द्रमा होने पर किसी भी शुभ या नया काम शुरू करने से पहले, घर में दूध से भरा कोई घड़ा या कनस्तर रखें.

पांचवे भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Panchve House Me Chandra Grah Ke Upay

  • पंचम / पांचवे में स्थित चन्द्रमा ( Panchve House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें. किसी के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग न करें ऐसा करना मुशीबतों को निमंत्रण देना होगा.
  • पंचमेश चन्द्रमा ( fifth House Ke Moon ) होने पर जातक को लालची और स्वार्थी बनने से बचें.
  • पांचवे खाने में चन्द्रमा ( Pancham / Panchve House Chandra / Moon ) होने पर जातक को दूसरों के साथ छल और बेईमानी न करें, इसका आप पर ही प्रतिकूल असर होगा.
  • पंचम / पांचवे खाने में चन्द्रमा होने पर जातक को किसी के खिलाफ कुछ करनें से पहले किसी और से सलाह जरूर लें इसका आपके जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और आप 100 सालों तक जिएंगे.
  • पंचमेश चन्द्रमा ( Moon in fifth House ) होने पर जातक को लोगों की सेवा करें इससे आपकी आमदनी और प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी.

छठे भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Chhathe House Me Chandra Grah Ke Upay

  • षष्ठ / छठे में स्थित चन्द्रमा ( Chhathe House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को अपने पिता को अपने हाथों से दूध परोसें.
  • छठे खाने में चन्द्रमा ( sixth House Ke Moon ) होने पर जातक रात के समय दूध कभी भी न पिएं. लेकिन दिन के समय दूध उपयोग किया जा सकता है. रात के समय दही और पनीर का सेवन किया जा सकता है.
  • षष्ठ भाव में चन्द्रमा ( Shshth / Chhathe House Chandra / Moon ) होने पर जातक को दूध का दान न करें। केवल पूजा के धार्मिक स्थानों पर दूध दिया जा सकता है.
  • षष्ठ / छठे में स्थित चन्द्रमा ( Chhathe House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को जातक अस्पताल या श्मशान भूमि में कुआं खुदवाएं.

सातवें भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Satve House Me Chandra Grah Ke Upay

  • सप्तम / सातवें में स्थित चन्द्रमा ( Satve House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को 24वें वर्ष में शादी न करें.
  • सप्तमेश चन्द्रमा ( seventh House Ke Moon ) होने पता जातक को अपनी मां को हमेशा खुश रखें.
  • सप्तम भाव में चन्द्रमा ( Saptam / Satve House Chandra / Moon ) होने पर लाभ कमाने के लिए कभी भी दूध या पानी न बेचें.
  • सप्तम / सातवें खाने में चन्द्रमा होने पर जातक को खोया बनाने के लिए दूध को न जलाएं.
  • सप्तम / सातवें में स्थित चन्द्रमा ( Satve House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को सुनिश्चित कर लें कि आपकी पत्नी शादी में अपने मायके से अपने वजन के बराबर चांदी और चावल लाए.

आठवें भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Athven House Me Chandra Grah Ke Upay

  • अष्टम / आठवें में स्थित चन्द्रमा ( Athven House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को जुआ और अनैतिकता से बचें.
  • अष्टमेश चन्द्रमा ( eighth House Ke Moon ) होने पर जातक को अपने पूर्वजों के लिए श्रद्धा समारोह आयोजित करें.
  • आठवें खाने में चन्द्रमा ( Ashtam / Athven House Chandra / Moon ) होने पर जातक को कुएं को छत से ढकने के बादघर का निर्माण न करें.
  • अष्टम / आठवें खाने में चन्द्रमा होने पर जातक को बुजुर्गों और बच्चों के पैर छूकर आशीर्वाद लें.
  • अष्टम भाव में चन्द्रमा ( Moon in eighth House ) होने पर जातक को श्मशान भूमि की सीमा के भीतर स्थित नल या कुंए से पानी लाएं और अपने घर के भीतर रखें. यह सप्तम भाव में स्थित चंद्रमा की सभी बुराइयों दूर करता है.
  • अष्टम / आठवें में स्थित चन्द्रमा ( Athven House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को पूजा स्थल में चना और दाल दान करें.

नौवें भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Nauven House Me Chandra Grah Ke Upay

  • नवम / नौवें में स्थित चन्द्रमा ( Nauven House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को घर में चंद्रमा से संबंधित चीजें रखें. जैसे अलमारी में चांदी का एक चौकोर टुकड़ा रखें.
  • नवमेश चन्द्रमा ( ninth House Ke Moon ) होने पर जातक को मजदूरों को दूध परोसें.
  • नवम भाव में चन्द्रमा ( Navam / Nauven House Chandra / Moon ) होने पर जातक को सांप को दूध पिलाएं और मछली के लिए चावल डालें.

यदि आप भी चन्द्रमा ग्रह के कारन परेशानी में है तो अपनी परेशानी को दूर करने के लिए दिए गये मोबाइल नंबर पर तुरंत कॉल करें Mobile & Whats app Number : 7821878500

दसवें भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Dasaven House Me Chandra Grah Ke Upay

  • दशम / दसवें में स्थित चन्द्रमा ( Dasaven House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को धार्मिक स्थानों की यात्रा भाग्य वृद्धि में सहायक होगी.
  • दशमेश चन्द्रमा ( tenth House Ke Moon ) होने पर बारिस अथवा नदी का प्राकृतिक जल किसी कंटेनर (कनस्तर) में भर कर अपने घर के भीतर 15 साल तक रखें. यह दसम भाव में स्थित चंद्रमा के विषाक्त और बुरे प्रभाव को धो देगा.
  • दसवें खाने में चन्द्रमा ( Dasham / Dasaven House Chandra / Moon ) होने पर जातक रात में दूध न पिएं.
  • दशम / दसवें खाने में चन्द्रमा होने पर जातक को दुधारू पशु न तो आपके घर में लंबे समय तक रह पाएंगे और न ही वो आपके लिए फायदेमंद और शुभ साबित होंगे.
  • दशम / दसवें में स्थित चन्द्रमा ( Dasaven House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को शराब, मांस, और व्यभिचार से बचें.

ग्यारवें भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Gyaraven House Me Chandra Grah Ke Upay

  • एकादश / ग्यारवें में स्थित चन्द्रमा होने पर जातक को भैरव मंदिर में दूध बांटे और दूसरों को उदारतापूर्वक दूध का दान करें.
  • एकादश भाव में चन्द्रमा ( eleventh House Ke Moon ) होने पर जातक को सुनिश्चित करें कि दादी अपने पोते को न देखने पाए.
  • ग्यारवें खाने में चन्द्रमा ( Ekadash / Gyaraven House Chandra / Moon ) जातक को दूध पीने से पहले सोने के एक टुकड़े को आग में गरम करें और दूध के गिलास में डालकर बुझाएं, इसके बाद दूध पिएं.
  • एकादश / ग्यारवें में स्थित चन्द्रमा  होने पर जातक को 125 पीस पेड़े (मिठाइयां) नदी में बहाएं.

बारहवें भाव में चन्द्रमा ग्रह के उपाय !! Barhven House Me Chandra Grah Ke Upay

  • द्वादश / बारहवें में स्थित चन्द्रमा ( Barhven House Me Chandra Grah Ke Upay ) होने पर जातक को कान में सोना पहनें. दूध में सोना बुझाकर दूध पियें. धार्मिक स्थलों की यात्रा करें. ये उपाय न केवल 12वें भाव के चन्द्र के दुष्प्रभाव को दूर करते बल्कि चौथे भाव के केतू के दुष्प्रभाव को भी दूर करते हैं.
  • द्वादश भाव में चन्द्रमा ( twelveth House Ke Moon ) होने पर जातक को धार्मिक साधु-संतों को कभी भी दूध और भोजन न दें.
  • बारहवें खाने में चन्द्रमा ( Dwadash / Barhven House Chandra / Moon ) होने पर स्कूल, कॉलेज या अन्य कोई शैक्षणिक संस्थान न खोलें और निःशुल्क शिक्षा पाने वाले बच्चों की मदद न करें ! 

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आपके जीवन में भी चन्द्र ग्रह के कारण किसी भी तरह की परेशानी आ रही हो तो अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित ब्राह्मण पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 7821878500 ( Paid Services )

Related Post : 

चन्द्र ग्रह के उपाय || Chandra Grah Ke Upay

चन्द्र ग्रह की शांति के उपाय || Chandra Grah Ki Shanti Ke Upay

चन्द्र को मजबूत करने के उपाय || Chandra Ko Majboot Karne Ke Upay

चन्द्र को प्रसन्न करने के उपाय || Chandra Ko Prasan Karne Ke Upay

चन्द्र की महादशा और अंतर्दशा के उपाय || Chandra Ki Mahadasha-Antardasha Ke Upay

चन्द्र ग्रह के मंत्र || Chandra Grah Ke Mantra

चन्द्र स्तोत्र || Chandra Stotram

चन्द्र कवच || Chandra Kavacham

चन्द्र अष्टोत्तर शतनामावली || Chandra Ashtottara Shatanamavali

चन्द्र अष्टोत्तर शतनामावली स्तोत्रम् || Chandra Ashtottara Shatanamavali Stotram

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*